Friday, June 19, 2009

फोटो फीचर : अब आप नैनो कार खरीदने से पहले दो बार सोचेंगे

16 comments:

परमजीत बाली said...

दो बार सोचना जरूरी क्यों है?......एक बार क्यों नही.....?:))
अब फोटो देख कर ही डर लग रहा है तो खरीदेगें काहे को!!:)
बहुत रोमांचकारी फोटो है।आभार।

संजय बेंगाणी said...

गजराज तो मात्र लिफ्ट माँग रहे हैं :)

bhawna said...

he ishwar ye aapne kya dikha diya ?:/
ab raat me sapne bhi aise hi dikhenge. hum haathi bahul chhetra me hi rahte hain ji . (raja ji national park se sata hua abaad ilaka )
bahut prabhavi tasveer hai ji .

Mired Mirage said...

बहुत बढिया! हम तो हाथी खरीदना बेहतर समझेंगे।
घुघूती बासूती

नीरज गोस्वामी said...

गजराज के सामने क्या नैनो और क्या मर्सडीज़...
नीरज

Vijay Wadnere said...

ये बात पहले क्यों नहीं बताई?
अब तो अपनी नैनो आपको ही बेचेंगे. तैयार रहियेगा.

सिद्धार्थ जोशी Sidharth Joshi said...

खरीद भी ली तो हाथी से दूर रखेंगे :)

Gagan Sharma, Kuchh Alag sa said...

दो बार क्या सोचेंगें ही नहीं।

P.N. Subramanian said...

उनके लिए क्या नेनो क्या ट्रक दोनों ही बराबर ही हैं.

अल्पना वर्मा said...

Na haathi na car!
aise raston ke paas se guzrenge bhi nahin...

--lekin shayad aisa janglon mein real mein hota hai..jahan haathi poori gadi palat dete hain.[khaas kar andmaan ke janglon ke kissey sune hain.]

venus kesari said...

ये कार नैनो तो नहीं है
नैनो के नाम का गलत फायदा उठाया जा रहा है :).
वीनस केसरी

शरद कोकास said...

वैसे भी कार रखना हाथी पालने जैसा ही तो है

राजकुमार ग्वालानी said...

लगता है गजराज के नैनों को भी यह कार भा गई है

लवली कुमारी / Lovely kumari said...

हा हा हा ...सपने में भी नही सोंचेंगे.

अविनाश वाचस्पति said...

कार तो बुक करा ली है
अब उसमें हाथी प्रोटेक्‍टर लगवाएंगे
और भी जिसे लगवाना हो
संपर्क करे

shafi said...

lagta hay gagraj bhi nano may sasar hona chatha hay, hahaha

Post a Comment

 

हिन्दी ब्लॉग टिप्सः तीन कॉलम वाली टेम्पलेट